ईश्वर दर्शन

मंगल – कल्याण :

मंगल हो ! कल्याण हो ! संस्क्रुत भाशा में मंगल श्ब्द का अर्थ है – प्रगति . कल्याण का अर्थ है – नवीन जीवन , जीवन का प्रभात . उन्नती शब्द का अर्थ – वर्तमान परिस्थिती से उपर उठना. प्रत्येक मनुष्य का मंगल हो , उसको नवीन जीवन की प्राप्ति हो और वो वर्त्मान परिस्थिती से उपर उठे ; दुख सुख से लिप्त हुए बिना आगे बढता जाये – इसी में मनुश्य का मंगल , कल्याण एवं उन्नति है .

मनोबल की व्रुद्धी :

सबके जीवन मे  इतना मनोबल , आतमबल एवं निश्ठा नहीं होती कि वो अपने बल बूते पर आगे बढ सके. इसीलिये उसको सर्वग्य , सर्वश्क्ती परम दयालु परमेश्वर का आश्रय लेकर जीवन को अग्रगामी बनाना चाहिये. परमेश्वर के आश्रय से मनुष्य निरुत्साह ,निर्बल एवं निराश्रय नहीं होता.जैसे कोई सैनिक युद्ध भूमि में गिर भी जाये और उसके मन मे यह विश्वास बना रहे कि मेरा सेनपति या सम्राट मेरी सहायता के लिये और सेना भेज रहा है , तो वो उस परिस्थिति में भी अपने को बलवान अनुभ्व करेगा और जीत की आशा बनी रहेगी. वैसे ही निर्बल से निर्बल मनुष्य के लिये पर्मेश्वर का आश्रय सर्वदा आशावान , बलवान तथा द्रुढ रहता है. ईश्वर सहारा असंभव को भी संभव बना देता है. ऐसा कोई कार्य नहीं है जो ईश्वर विश्वासी के लिये दुर्गम हो. उसके लिये सब सुगम हो जाता है.

To be continued… I am attempting a translation. Would be grateful if anyone can help.

Advertisements

3 comments on “ईश्वर दर्शन

  1. VC says:

    Hi Rajnish, glad to see that you have benefited from Swami Akhandanand-ji’s writings… Hope you will continue to post more of your favorite excerpts in the future as well!

    • aahang says:

      Ishwar Darshan is a blessing by Param Pujya Swami Akahndanadji to the whole world.Years ago I had visited the Ashram with my Guru and I had picked this book.It has been a constant companion in good as well as bad times since.
      When all Jargon is put away and Swamiji simply says
      ” Bhagwan Aate hain” it just brings tears to my eyes.
      I am guilty of not being able to take this project forward.Actually I had wanted to translate it but I failed so the interest went down.

  2. Avanish says:

    Ishwar Darshan is a one of my most favourite books, good that you are trying to spread the message more through your blog….
    please continue!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s