हम लोग

इश्क़ में ला-जवाब हैं हम लोग,

माहताब आफ़्ताब हैं हम लोग

गरचे अहल-ए-शराब हैं हम लोग,

ये न समझो ख़राब हैं हम लोग ।

जब मिली आँख होश खो बैठे,

कितने हाज़िर-जवाब हैं हम लोग ।

जानता भी है उस को तू वाइज़,

जिस के मस्त-ओ-ख़राब हैं हम लोग

~ ज़िगर

Advertisements

3 comments on “हम लोग

  1. अमन says:

    Gjbbb sir.. awesome..also try my.. creativity..

  2. Anonymous says:

    translation please.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s